सूर्य से पृथ्वी की दूरी कितनी है Surya se Prithvi ki Duri

सूर्य से पृथ्वी की दूरी कितनी है Surya se Prithvi ki Duri

सूर्य से पृथ्वी की दूरी कितनी है Surya se Prithvi ki Duri

Surya se Prithvi ki Duri पृथ्वी सौर्य मण्डल का एक सदस्य ग्रह है। पृथ्वी या सौर्यमण्डल के किसी सदस्य ग्रह की उत्पत्ति समझने के लिये सौर्यमण्डल की सामान्य एवं उभयनिष्ठ विशेषताओं का ज्ञान होना आवश्यक है ।

सौर्य मण्डल में सूर्य के अलावा उसके नौ ग्रह हैं तथा सौर्यमण्डल का आकार तस्तरीनुमा है जिसके मध्य में सूर्य की स्थिति है। सम्पूर्ण सौर मण्डल की व्यास 733 करोड़ मील (1173 करोड़ किलोमीटर) के लगभग है। पृथ्वी सूर्य से 149,600,000 किमी० (1.496×108 km) की दूरी पर स्थित है सूर्य का प्रकाश पृथ्वी पर आने मैं लगभग 8 मिनट 18 सेकंड का समय लगता है इस दूरी को AU भी कहा जाता है यह दूरी लगभग 150 मिलियन किलोमीटर होती है तथा इसकी व्यास 12,742 किमी० तथा औसत घनत्व 5.52 है।

आकार तथा संरचना की दृष्टि से सौर्यमण्डल के ग्रहों को दो प्रकारों में विभक्त किया जाता है-
(1) आन्तरिक ग्रह एवं ( 2 )
वाह्य ग्रह।
चार आन्तरिक ग्रह (बुध, शुक्र, पृथ्वी एवं मंगल)
आकार में छोटे हैं परन्तु उनका घनत्व अधिक है (प्रत्येक का घनत्व 4 × 103 kg m 3 या उससे अधिक है) ।

वाह्य ग्रह आकार में अत्यधिक वृहद हैं परन्तु उनका घनत्व बहुत कम है। उदाहरण के
लिये बृहस्पति की अर्द्धव्यास एवं आयतन पृथ्वी से क्रमश: दस गुना एवं हजार गुना अधिक है। शनि का घनत्व तो जल के घनत्व (103 kgm 3) से भी कम है।

  Ocean in Hindi महासागर कितने हैं महासागर के नाम विशेषताएं

संबंधित पोस्ट
पृथ्वी की आंतरिक संरचना
पृथ्वी की त्रिज्या कितनी है

Share this

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *