जल ही जीवन है निबंध

जल ही जीवन है निबंध Jal Hi Jeevan Hai Essay in Hindi

जल ही जीवन है निबंध jal hi jivan hai nibandh

प्रस्तावना– हमारे जीवन में जल बहुत ही महत्वपूर्ण है। बिना जल के जीवन ही अधूरा है। बिना जल के मनुष्य के जीवन की कल्पना ही नहीं हो सकती। पृथ्वी में पाए जाने वाले अधिकतर। प्राणी है जल पर ही निर्भर करता है। हमारे सौरमंडल में पृथ्वी ही ऐसा ग्रह है जिस पर जल पाया जाता है। मनुष्य पशु पेड़ पौधे सभी के लिए जल बहुत ही आवश्यक होता है। संपूर्ण पृथ्वी के 78 प्रथम भाग में। जल पाया जाता है। जिस का अधिकांश भाग खारा जल होता है। पृथ्वी पर शुद्ध पानी सिर्फ 2.4% ही पाया जाता है।

मानव जीवन में जल का महत्व

मनुष्य के लिए जल बहुत ही महत्वपूर्ण है। बिना जलके मनुष्य जीवित नहीं रह सकता। हम सभी को प्यास बुझाने के लिए जल की की। ही जरूरत पड़ती है। स्वस्थ रहने के लिए मनुष्य को 5 दिन कम से कम 2 से 3 लीटर। जल की आवश्यकता होती है। बिना जलके मनुष्य जीवित नहीं रह सकता। इससे जल के महत्व का पता चलता है। दूसरे शब्दों में कहा जाए तो जल ही जीवन है। आजकल जल बहुत ही तेजी से खर्च किया जा रहा है। हमें जल को बचाने की जरूरत है। पृथ्वी पर बड़ी-बड़ी फैक्ट्रियां पर। प्रदूषण फैलाया जा रहा है। बड़ी बड़ी फैक्ट्री में रासायनिक के चोरों को नदियों के झीलों तालाबों में बाहर जाता है जिससे जल प्रदूषित होता है। जल प्रदूषण को रोकने के लिए सरकार को बहुत ही कठोर कदम उठाने चाहिए।

  कंप्यूटर पर निबंध Computer Essay in Hindi

स्वस्थ रहने के लिए जल का महत्व

हमारे शरीर में 65 से 80 पर्सेंट तक जल पाया जाता है। हमें स्वस्थ रहने के लिए शुद्ध जल की जरूरत होती है। दूषित जल पीने से बहुत सी बीमारियां होती हैं। उदाहरण जैसे पीलिया संक्रामक रोग चेचक। आदि। जल को शुद्ध रखने के लिए ब्लीचिंग पाउडर फिटकरी जैसे चीजों का प्रयोग किया जाता है। अगर जल दूषित हो तो मनुष्य को जल को उबालकर पीना चाहिए। जल को पालने से उसके अंदर बैक्टीरिया मर जाते हैं। जिससे मनुष्य को संक्रामक रोग नहीं होते हैं। पेड़ पौधों के लिए जल का महत्व। मनुष्य की तरह ही पेड़ पौधों को भी जल की आवश्यकता होती है। पेड़ पौधे जल को जड़ों। जनों द्वारा ग्रहण करते हैं। जड़ों के माध्यम से पेड़ पौधों में। जल शेष अन्य भागों में पहुंच जाता है। मनुष्य के ही तरह पेड़ पौधे भी बिना जलके जीवित नहीं रह सकता। अगर पेड़ पौधों को पानी ना दिया जाए तो मुरझा को सुख जाते हैं।

 बिना जल के प्रकृति में उगने वाली फसलों का होना भी असंभव है। हमारे दैनिक जीवन में प्रयोग होने वाली फसल है जैसे गेहूं मक्का चावल आज बिना जलके नहीं हो सकती। बिना जल के पृथ्वी में मानव जीवन पेड़ पौधे सभी असंभव है।

  वन महोत्सव पर निबंध Van Mahotsav Essay In Hindi

पशु पक्षी और वन्यजीवों के लिए जल का महत्व

मनुष्य के ही तरह पशु पक्षी को भी प्यास लगती है। गाय भैंस बकरी भैंस शेर भालू दूसरे जीव है पानी पर ही निर्भर है। कुछ जीव जैसे मछली जो सिर्फ जल में निवास करती है। जल एक ऐसी वस्तु है जिसके बिना पशु पक्षी तथा जलीय जीव जो जीवित नहीं रह सकता। पृथ्वी पर कुछ जी वैसे भी हैं। जो मानव से ज्यादा जल का प्रयोग करते हैं। जैसे रेगिस्तान का जहाज ऊंट। एक बार में 50 लीटर पानी पीकर अपने शरीर मैं संचित कर लेता है।

जल संरक्षण के उपाय

जल एक ऐसी वस्तु है जिसको। बर्बाद नहीं करना चाहिए। हमें दैनिक जीवन भी ज्यादा। जल को बर्बाद नहीं करना चाहिए। जितनी आवश्यकता है उतना ही जल प्रयोग करना चाहिए वर्षा के पानी को जल तलाब नदियों के माध्यम से फसलों के लिए प्रयोग में लाना चाहिए। गंदे जल को नदियों तालाबों तथा जलाशयों में नहीं छोड़ना चाहिए। क्योंकि जल दूषित हो जाने से जल में निवास करने वाली बहुत सी प्रजाति मर जाती है।

Share this

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

error: Alert: Content is protected !!